दोस्तो, मेरा नाम मुदित है। मैं फरीदाबाद का रहने वाला हूं। आज मैं आपको एक सच्ची बहनचोद कहानी बताना चाहता हूं। ये कहानी मेरी और मेरी बहन के बीच हुई एक सच्ची घटना है। मैं अपने बारे में बता दूं कि मेरी उम्र 24 साल है। रंग गोरा है और हाइट 5.8 फीट है।

मेरी एक मुंह-बोली बहन है सुलक्षणा। वो मुझसे हाइट में तो छोटी है लेकिन है एकदम माल लगती है देखने में। उसका रंग भी गोरा है और उसका फिगर 34-32-36 होगा। वो भी दिल्ली में ही रहती है।

मेरा अक्सर उसके घर आना-जाना रहता है और उसके मम्मी-पापा यानि कि अंकल-आंटी से भी अच्छे रिलेशन हैं हमारे। कुल मिला कर सब अच्छा है।

एक दिन की बात है कि मैं सुलक्षणा के घर गया था किसी काम से। अंकल की जॉब है तो वो घर पर नहीं थे। घर पर बस आंटी और सुलक्षणा ही थे।

जैसे ही मैं उसके घर पहुंचा और डोर बेल बजाई तो अन्दर से सुलक्षणा ने दरवाजा खोला तो मैंने देखा कि उसने गाउन पहना हुआ था और वो बहुत सुंदर दिख रही थी। शायद उसने वो नया खरीदा था। मैंने देखा कि उसके बूब्स उसमें से टाइट और आकर्षक दिख रहे थे। मैं तो जैसे देखता ही रह गया उसको।

वो पहली बार था जब मैंने उसे ऐसे देखा था और मेरे मन में उसके लिए ऐसे विचार आए थे। इतना होने के बाद मैं फिर अन्दर चला गया।

सामने आंटी बैठी थी तो मैं उनसे बातें करने लगा और सुलक्षणा चाय बनाने रसोई में चली गई। सुलक्षणा चाय लेकर आ गई और उसने मुझे और आंटी को चाय दी. अपने लिए चाय लेकर मेरे पास वाले सोफे पर बैठ गई। हम तीनों चाय पी रहे थे तो मेरी नज़र बार-बार सुलक्षणा के बूब्स पर ही जा रही थी।

बातों-बातों मैं मैंने महसूस किया कि आंटी की तबियत ठीक नहीं थी तो वो चाय पीने के बाद बोली- बेटा तुम दोनों बातें करो, मेरी तबियत ठीक नहीं लग रही है तो मैं थोड़ा आराम कर लेती हूं. आंटी इतना कह कर वो अंदर रूम में चली गई।

मैं और सुलक्षणा दोनों बातें करने लगे। मैंने उससे बोला- सुलक्षणा तूने ये ड्रेस नया लिया है क्या?
वो बोली- हां, नया है तभी तो पहना है।
मैंने कहा- अच्छी लग रही हो.
तो वो बोली- थैंक्यू भाई।

मैं और सुलक्षणा आपस में थोड़े खुले थे. हम मॉडर्न भी थे तो हम दोनों कुछ हद तक काफी बातें एक दूसरे को बताते रहते थे। हालांकि मुझे पहले से ही पता था कि सुलक्षणा का कोई ब्वॉयफ्रेंड नहीं है।

मैंने फिर भी पूछा- सुलक्षणा तूने अपनी फोटो निकाली है क्या?
तो वो बोली- हां, निकाली तो है।
मैं बोला- अच्छा तो किसको सेंड की? अपने ब्वॉयफ्रेंड को?
वो बोली- यार कहां बॉयफ्रेंड। तुझे तो पता है कि मेरा कोई ब्वॉयफ्रैंड नहीं है।
“लेकिन मैंने सोचा कि शायद बना लिया होगा तो इसी लिए पूछा।” मैंने कहा.
“नहीं ऐसा कुछ नहीं है, अगर ऐसा होगा तो तुझे तो पता चल ही जाएगा।”