यह कहानी मेरे और मेरी तहेरी भाभी के बीच की है, यानि कि मेरे सगे बड़े ताऊ जी की बहू।

चोदना तो मैं भाभी को बहुत पहले ही चाहता था लेकिन परिवार की भाभी हैं इसलिए कुछ भी करने से डर लगता था. क्योंकि मुझे ऐसा लगता था कि उनके पति उन्हें नहीं चोदते या सही से नहीं चोदते. जो कि बाद में पता चला कि मैं सही था कि उनके पति ने उन्हें 10 साल से चोदा ही नहीं है।
आज वो सपना भी पूरा हो गया।

अब आपको इस कहानी की नायिका यानि कि अपनी भाभी के बारे में बताता हूँ। भाभी का नाम पायल (परिवर्तित नाम), उम्र 35 साल, हाईट 5’4″ फिगर 36-34-36, रंग साँवला है और भाभी के दो बच्चे भी है, लड़की 13 साल की और लड़का 10 साल का।

वो कहते हैं ना ‘मुहब्बत की ऐसी लगी बिमारी कि दो बच्चे की मां भी लगे कुँवारी!’
भाभी मेरे से 10 साल बड़ी हैं, मतलब हमारे खानदान की सबसे बड़ी बहू (भाभी) की चुदाई उनके सबसे छोटे देवर (मैंने) ने की।

हमारे घर से उनके घर की दूरी 1 किमी है।
मैं अपना नाम नहीं बताना चाहूंगा। मेरा लन्ड 5 इन्च का है, उम्र 25 साल है, और हम बरेली में रहते हैं।
यह घटना छः महीने पहले यानि जून 2019 की है, जब मेरे बीच वाले ताऊ जी की बेटी की शादी के लिए हम सबको शहर से बाहर जाना था।

लड़के वाले तो लोकल के ही थे लेकिन शादी बाहर जाकर करने का प्लान था उनका। हमने शादी में जाने के लिए मिनी बस कर रखी थी जिसमें मेरी और दोनों ताऊ जी की ही फैमिली ही जानी थी. बाकी रिश्तेदार सीधे वही पहुँचने थे।

आखिर शादी का दिन भी आ गया. सुबह ही हमें जाने के लिए निकलना था. ताऊ जी के घर पर ही बस लग गई थी, सब आ गए थे।

उस दिन भाभी बहुत ही अच्छी लग रही थी और उनके चेहरे पर कुछ अलग ही मुस्कान थी।