दोस्तो, मैं दीप मलिक, आज आपके पास अपने जीवन की सत्य घटना, जिसमें मैंने एक शादीशुदा चुदासी भाभी को चोदा, पर आधारित एक सेक्स कहानी को बताने आया हूं.

मस्तराम जैसे विश्वविख्यात पटल पर हिंदी में सेक्स कहानी लिखने का ये मेरा पहला अनुभव है. मुझसे लिखने कुछ गलती हो जाए, तो प्लीज आप नजरअंदाज कर दीजिएगा.

दोस्तो, मैं अपने इस रंगीन अनुभव को शब्दों में पिरो कर आपको रोमांचित करने का प्रयास करूंगा.

मैं आपको बता देना चाहता हूँ कि मैं हरियाणा का रहने वाला हूं और यह सेक्स कहानी मेरे जीवन की मस्त कहानी है.

यह बात करीब 3 साल पहले की है, जब मैं डिप्लोमा कर रहा था. मैं फेसबुक तो नियमित यूज करता ही था, तो एक दिन मेरे पास एक भाभी की रिक्वेस्ट आई. उनका नाम कोमल (बदला हुआ नाम) था.

फेसबुक पर भाभी जी से दोस्ती हुई तो ऐसे ही हमारे बीच बातें भी होने लगीं. समय के साथ साथ हम दोनों एक दूसरे से अन्तरंग होते चले गए. हम एक दूसरे से अपनी बातों को शेयर करने लगे. धीरे-धीरे कोमल भाभी मुझे अपना सबसे बेस्ट फ्रेंड माननी लगी. कोमल मेरे शहर के पास के ही दूसरे उपनगर की रहने वाली थी.

उसकी बातों से ही मुझे जानकारी लगी थी कि उसका पति कुछ ज्यादा ही शराब पीता था. वो शराब पीकर गाली गलौज करता था, कोमल भाभी के साथ मारपीट भी करता था. भाभी अपनी कड़वाहट भरी इन सब बातों को मुझसे शेयर कर देती थी.

उसकी इन बातों से मुझे उसके साथ काफी हमदर्दी हो गई थी. एक तरह से आप कह सकते हैं कि मुझे उसके प्रति सहानुभूति तो हो ही गई थी … साथ में प्यार भी हो गया था.

मैं कोमल को अपना समझ कर बहुत प्यार से दिलासा देने का प्रयास करता था, वो भी मेरी सहानुभूति भरी बातों से खुद को काफी संतुलित महसूस करती थी. हमारा इस तरह का प्यार दिल ही दिल में परवान चढ़ने लगा था.

एक दिन उसने अपनी फोटो सेंड की. पहले तो उसने अपनी सिंपल फोटो सेंड की. उस फोटो को देख कर ही मुझे अहसास हो गया था कि कोमल एक माल दिखने वाली आइटम है.